कलेक्टरेट

कलेक्टरेट कार्यालय, उपायुक्त द्वारा संचालित जिला प्रशासन का प्रमुख कार्यालय होता है | यह कार्यालय कानून और व्यवस्था के रखरखाव को सुनिश्चित करता है, जनता की शिकायतों का निवारण करता है और सरकार के सभी नीतिगत निर्णयों को लागू करता है । उपायुक्त कार्यालय धरातल पर केंद्रीय और राज्य सरकार के कार्यक्रमों, नीतियों और योजनाओं के कार्यान्वयन और आम जनता को प्रदान की जाने वाली जरूरतों और सुविधाओं के बारे में जानकारी एकत्रित करने का कार्य भी करता है ।
उपायुक्त कार्यालय जिले के भीतर सभी सरकारी विभागों के कामकाज का मूल्यांकन करता है । आग, बाढ़, सूखा इत्यादि जैसी प्राकृतिक आपदाओं के समय, यह कार्यालय सैन्य सहायता मांगता है और सिविल-सैन्य प्रशासन के प्रयासों का समन्वय करता है । अतिरिक्त जिलाधीश/अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी, सहायक आयुक्त, जिला राजस्व अधिकारी, जिला योजना अधिकारी, सहायक नियंत्रक (वित्त और लेखा) जैसे अधिकारी जिला प्रशासन के कार्यों को सुचारू रूप से चलाने में उपायुक्त की सहायता करते हैं | उप-मण्डल स्तर पर, उप-मण्डल अधिकारी (नागरिक)-एवं-उप-मण्डल दंडाधिकारी प्रशासन की बागडोर सँभालते हैं, जिन्हें तहसीलदार/नाइब तहसीलदार, कानूगो, पटवारी आदि अन्य अधिकारियों द्वारा सहायता दी जाती है । विकास खण्ड स्तर पर, खण्ड विकास अधिकारी ग्रामीण विकास गतिविधियों के निष्पादन में सहायता करते हैं। जिला बिलासपुर का मुख्यालय, बिलासपुर हिमाचल प्रदेश में स्थित है।

दूरभाष: +91-1978-224155
फैक्स: +91-1978-223065
ई-मेल: dc-bil-hp[at]nic[dot]in