गोबिन्द सागर झील

दिशा

सतलुज नदी पर भाखड़ा बांध बनने के कारण हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में गोबिन्द सागर नामक झील का निर्माण हुआ है। सिखों के 10वें गुरू श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी के सम्मान पर इस झील का नाम गोबिन्द सागर रखा गया है। इस झील में अनेक प्रकार की जलक्रिड़ाओं व जल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है जैसे वॉटर स्कीयंग, वॉटर सेलिंग, क्याकिंग, वॉटर स्कूटर, रेसिंग इत्यादि। पर्यटन विभाग की ओर से इन खेलों का आयोजन पूर्णतः जल स्तर पर होता है।

फोटो गैलरी

  • गोबिंद सागर झील
  • गोबिंद सागर झील
  • गोबिंद सागर झील

कैसे पहुंचें:

बाय एयर

शिमला, चंडीगढ़ और भुंतर निकटतम हवाई अड्डे हैं, जो कि बिलासपुर की गोबिंद सागर झील से 85 कि.मी. , 135 कि.मी. और 131 कि.मी. की दूरी पर स्थित हैं।

ट्रेन द्वारा

निकटतम ब्रॉडगेज रेलवे स्टेशन किरतपुर साहिब, पंजाब में है और नैरो गेज रेलवे स्टेशन शिमला मैं है जो कि बिलासपुर की गोबिंद सागर झील से 65 कि.मी. और 85 कि.मी. की दूरी पर स्थित है।

सड़क के द्वारा

बिलासपुर की गोविंद सागर झील तक शिमला से सड़क द्वारा पहुंचा जा सकता है, जो की लगभग 85 कि.मी. दूर है, और चंडीगढ़ से करीब 135 कि.मी. दूर है।